test
35 C
Ahmedabad
Sunday, July 14, 2024

नई दिल्ली : जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने नए सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार संभाला


जनरल उपेन्द्र द्विवेदी ने रविवार को 30वें सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार संभाला. वर्तमान सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे सेवानिवृत्त हो गए हैं. जनरल द्विवेदी को चीन और पाकिस्तान से लगी सीमाओं पर व्यापक ऑपरेशनल अनुभव है. वह सेना के उपप्रमुख के रूप में कार्यरत थे.

Advertisement

19 फरवरी को सेना के उप प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने से पहले, जनरल द्विवेदी 2022-2024 तक उत्तरी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ के रूप में कार्यरत थे.उन्होंने ऐसे समय में 13 लाख सैनिकों वाली सेना की कमान संभाली थी, जब भारत, चीन के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) सहित विभिन्न सुरक्षा चुनौतियों का सामना कर रहा था. थल सेना प्रमुख के रूप में उन्हें थिएटर कमांड शुरू करने की केंद्र की महत्वाकांक्षी योजना पर नौसेना और भारतीय वायु सेना के साथ समन्वय भी करना होगा. सैनिक स्कूल रीवा के पूर्व छात्र जनरल द्विवेदी को 15 दिसंबर, 1984 को भारतीय सेना की 18 जम्मू- कश्मीर राइफल्स में कमीशन मिला था. बाद में उन्होंने यूनिट की कमान संभाली.

Advertisement

अपने लगभग 40 वर्षों के लंबे और प्रतिष्ठित करियर में उन्होंने विभिन्न कमांड, स्टाफ, इंस्ट्रक्शनल और विदेशी नियुक्तियों में काम किया है जनरल द्विवेदी की कमांड नियुक्तियों में रेजिमेंट (18 जम्मू और कश्मीर राइफल्स), ब्रिगेड (26 सेक्टर असम राइफल्स), महानिरीक्षक, असम राइफल्स (पूर्व) और 9 कोर की कमान शामिल हैं. उन्हें परम विशिष्ट सेवा पदक, अति विशिष्ट सेवा पदक और तीन जीओसी-इन-सी प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया है.

Advertisement

अधिकारियों ने बताया कि उत्तरी सेना के कमांडर के रूप में जनरल द्विवेदी ने जम्मू-कश्मीर में गतिशील आतंकवाद-रोधी अभियानों का संचालन करने के अलावा, उत्तरी और पश्चिमी सीमाओं पर निरंतर अभियानों की योजना बनाने और उन्हें क्रियान्वित करने के लिए रणनीतिक मार्गदर्शन और ऑपरेशन का निरीक्षण किया.
उन्होंने बताया कि इस दौरान अधिकारी चीन के साथ चल रही बातचीत में सक्रिय रूप से शामिल थे, ताकि विवादित सीमा मुद्दे को हल किया जा सके. वह भारतीय सेना की सबसे बड़ी सेना कमान के आधुनिकीकरण और उपकरणों से लैस करने में भी शामिल थे, जहां उन्होंने आत्मनिर्भर भारत के हिस्से के रूप में स्वदेशी उपकरणों को शामिल करने का काम किया.

Advertisement
Advertisement

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -
- Advertisement -

વિડીયો

- Advertisement -
error: Content is protected !!