test
32 C
Ahmedabad
Sunday, July 14, 2024

हिंडनबर्ग मामले में SEBI ने किया खुलासा, अडाणी के खिलाफ रिपोर्ट पब्लिश्ड से पहले क्लाइंट से किया गया था शेयर


नई दिल्ली: बाजार नियामक सेबी के अनुसार अमेरिकी शॉर्ट-सेलर हिंडनबर्ग रिसर्च अडाणी समूह के खिलाफ अपनी रिपोर्ट एक कॉपी न्यूयॉर्क स्थित हेज फंड मैनेजर मार्क किंगडन के साथ लगभग दो महीने पहले शेयर की थी. सेबी ने बताया कि हिंडनबर्ग ने शेयर मूल्य में उतार-चढ़ाव से होने वाले नुकसान को साझा करने के डील से लाभ कमाया था.

Advertisement

सेबी ने हिंडनबर्ग पर क्या बोला?

Advertisement

सेबी ने हिंडनबर्ग को भेजे गए अपने 46 पेज के कारण बताओ नोटिस में विस्तार से बताया कि कैसे अमेरिकी शॉर्ट सेलर, न्यूयॉर्क हेज फंड और कोटक महिंद्रा बैंक से जुड़े एक ब्रोकर ने रिपोर्ट के प्रकाशन के बाद अडाणी समूह की 10 लिस्टेड फर्मों के बाजार मूल्य में 150 बिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक की गिरावट से लाभ उठाया.सेबी ने हिंडनबर्ग पर गलत सूचनाओं का यूज करने और अडाणी समूह के शेयरों में बिक्री कर लाभ कमाने का आरोप लगाया है.
सेबी के नोटिस को सार्वजनिक करने वाली हिंडनबर्ग ने अपने जवाब में कारण बताओ नोटिस को भारत में सबसे शक्तिशाली व्यक्तियों द्वारा किए गए भ्रष्टाचार और धोखाधड़ी को उजागर करने वालों को चुप कराने और डराने का प्रयास बताया है. साथ ही खुलासा किया है कि अडाणी की प्रमुख कंपनी अडाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड के खिलाफ दांव लगाने के लिए इस्तेमाल किया गया. हिंडनबर्ग ने कोटक महिंद्रा (इंटरनेशनल) लिमिटेड का भी जिक्र किया, जो कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड की मॉरीशस स्थित सहायक कंपनी है.

Advertisement
Advertisement

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -
- Advertisement -

વિડીયો

- Advertisement -
error: Content is protected !!