38 C
Ahmedabad
Tuesday, May 28, 2024

नई दिल्ली : EC ने आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी को किया तलब, चुनाव के बाद राज्य में हिंसा की हुई थी घटनाएं


 

Advertisement

निर्वाचन आयोग ने आंध्र प्रदेश में चुनाव बाद हिंसा का संज्ञान लेते हुए घटनाओं को रोकने में प्रशासन की विफलता पर ‘‘व्यक्तिगत रूप से स्पष्टीकरण देने’’ के लिए राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को बृहस्पतिवार को तलब किया है। सूत्रों ने यह जानकारी दी है।

Advertisement

आयोग ने राज्य सरकार को आदर्श आचार संहिता के अभी लागू होने की याद दिलाते हुए मुख्य सचिव और पुलिस प्रमुख से यह सुनिश्चित करने को कहा कि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों। अधिकारियों ने बताया कि आयोग ने बार-बार इस बात पर जोर दिया है कि लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है और लोकसभा चुनावों की घोषणा के बाद से मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार शांतिपूर्ण और हिंसा मुक्त चुनाव सुनिश्चित करने के लिए व्यक्तिगत रूप से चुनाव क्षेत्र की निगरानी कर रहे हैं।

Advertisement

व्यक्तिगत रूप से स्पष्टीकरण देंगे अधिकारी

Advertisement

सूत्रों ने कहा कि जब आंध्र प्रदेश के शीर्ष अधिकारी बृहस्पतिवार यहां चुनाव आयोग मुख्यालय में उपस्थित होंगे, तो उनसे चुनाव के बाद की हिंसा को रोकने में प्रशासन की विफलता के कारणों के बारे में ‘‘व्यक्तिगत रूप से स्पष्टीकरण देने’ के लिए कहा जाएगा।

Advertisement

आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में हिंसा की मिली सूचना

Advertisement

सूत्रों ने बताया कि उनसे भविष्य में ऐसी किसी भी घटना से बचने के लिए उठाए जाने वाले एहतियाती कदमों के बारे में भी पूछा जाएगा। आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में मंगलवार को चुनाव बाद हिंसा की सूचना मिली, जहां सोमवार को लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ हुए थे। सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस पार्टी और मुख्य विपक्षी तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के नेताओं ने घटनाओं के लिए एक-दूसरे पर आरोप लगाए हैं।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -
- Advertisement -

વિડીયો

- Advertisement -
error: Content is protected !!